चंदखुरी: जहां स्थित है प्रभु श्रीराम की माता कौशल्या का मंदिर

अयोध्या भगवान राम की जन्म स्थली है. तो छत्तीसगढ़ भगवान का ननिहाल. वाल्मीकि रामायण के मुताबिक छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से करीब 30 किमी. दूर बसा चंदखुरी ही प्रभु श्रीराम की माता कौशल्या का...

ओरछा: जहां प्रभु श्रीराम भगवान नहीं, राजा राम हैं

दुनिया भर में श्री राम भगवान की तरह पूजे जाते हैं. मर्यादा पुरुषोत्तम कहे जाते हैं. जन्मभूमि अयोध्या में श्री राम को भगवान माना जाता है. रामलला कहा जाता है. लेकिन ऐसी भी है....

माणा गांव: जहां आने के बाद लोग हो जाते हैं अमीर !

उत्तराखंड का आखिरी गांव माणा. चमोली जिले में स्थित माणा के बारे में कई कहानियां और मान्यताएं हैं. कहा जाता है, कि जो भी एक बार माणा गांव आता है. उसके सारे पाप धुल...

वो मंदिर, जहां होती है भगवान हनुमान और उनकी पत्नी सुवर्चला देवी की पूजा

कहा जाता है, कि हनुमान जी बाल बह्मचारी थे. जिसका जिक्र वाल्मीकि रामायण, कम्भ रामायण, रामचरितमानस में मिलता है. लेकिन पराशर संहिता में हनुमान जी के विवाह का बात कही गई है. जिसका उदाहरण...

घोड़ाखाल: न्याय के देवता गोलू देवता का प्रसिद्ध धाम

यूं तो चंपावत में स्थित गोलू देवता के मंदिर को सबसे प्राचीन माना जाता है. लेकिन नैनीताल के घोड़ाखाल में स्थित मंदिर की अपनी विशेषता है. दरअसल घोड़ाखाल में स्थित गोलू देवता के मंदिर...

मां शक्ति का प्रसिद्ध कालीमठ शक्तिपीठ, यहां मूर्ति की नहीं, कुंडी को होती है...

उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग में स्थित मां शक्ति का प्रसिद्ध कालीमठ मंदिर अपने आप में विशेष है. ये अकेला मंदिर है, जहां मूर्ति पूजा का विधान नहीं है. मंदिर में न तो कोई प्रतिमा है....

सारनाथ के प्रमुख दर्शनीय स्थल, वर्षों के इतिहास को खुद में समेटे है ये...

यूं तो सारनाथ की पहचान बौद्ध धर्म से जुड़ी है. सारनाथ को भगवान बुद्ध की उपदेश स्थली कहा जाता है. लेकिन सारनाथ में सिर्फ बौद्ध धर्म से जुड़े स्थल ही मौजूद नहीं है. यहां...

चित्रकूट धाम: पधारिए महर्षि वाल्मीकि के आश्रम, जहां हुई थी रामायण की रचना

अयोध्या भगवान राम की जन्मभूमि है. तो चित्रकूट धाम तपोस्थली है. चित्रकूट में ही भगवान राम, माता सीता और लक्ष्मण ने वनवास का अधिकतर समय गुजारा था. चित्रकूट धाम में ऐसे न जाने कितने ही...

किसी भी शहर ऐसे पहुंच सकते हैं केदारनाथ धाम, अति प्राचीन है केदारपुरी

12 ज्योतिर्लिंगों में से एक केदारनाथ धाम उत्तराखंड के रुद्रप्रयाग जिले में हिमालय की गोद में स्थित है. मंदाकिनी नदी के किनारे स्थित केदारनाथ धाम की समुद्र तल से ऊंचाई 3, 584 मीटर है....

सांवेर का अद्भुत हनुमान मंदिर, जहां सिर के बल खड़े हैं बजरंगबली

देश भर में हनुमान जी को समर्पित कई स्थल हैं. कई विश्व प्रसिद्ध मंदिर हैं. लेकिन एक ऐसी भी जगह है. जहां हनुमान जी की उल्टे रूप में पूजा की जाती है. इंदौर से करीब...

Stay connected

0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe

Recent posts

Random article