अगर आप नेचर लवर हैं, प्रकृति से प्यार है. तो आपको ऐसी जगहें पसंद होगी. जहां शांति को हो और हर ओर प्राकृतिक सौंदर्य बिखरा हुआ हो. हम आपकों ऐसी ही कुछ जगहों के बारे में बताने जा रहे हैं.

1कासोल

पिछले कुछ वक्त में पर्यटन के मानचित्र पर कसोल ने अपनी जगह बनाई है. कसोल में कई ऐसे स्थल है. जो शायद ही कहीं देखने के मिलें. हालांकि कसोल के लिए सीधे कोई बस या फिर ट्रेन सेवा उपलब्ध नहीं है. अगर आप दिल्ली से आ रहे हैं. तो आपको पहले चंडीगढ़ पहुंचना होगा. फिर यहां से कैब ले सकते हैं, नहीं तो बस के जरिए कुल्लू पहुंचे और फिर वहां से बसें और टैक्सियां बदलें

क्या है खास:

शंकुधारी जंगल, पार्वती नदी, पार्वती घाटी, मलाना, तोश, खेरंगा, माणिकरण, ट्रैकिंग, सल्फर स्प्रिंग्स

2सोलंग घाटी

मनाली के पास स्थित सोलंग वैली एडवेंचर्स लवर्स के लिए जन्नत है. आप यहां ट्रैकिंग, पैराग्लाइडिंग, पैराशूट से आसमान की सैर, घुड़सवारी कर सकते हैं. मनाली से सोलंग वैली की दूरी महद आधे घंटे की है. तो अगली बार जब मनाली जाएं, तो सोलंग वैली जरूर जाएं.

क्या है खास:

गुलाबा, नाग मंदिर, रोहतंग पास, हरे-भरे घास के मैदान, ट्रैकिंग, पैराग्लाइडिंग, कैम्पिंग

3खज्जर

हरे भरे देवदार के पेड़ों के बीच स्थित खज्जर को देखकर ऐसा लगता है. जैसे कुदरत ने दुनियाभर की खूबसूरती इस एक जगह में लाकर समेट दी हो. आप यहां जंगली घोड़ो को बेपरवाह घास चरते हुए देख सकते हैं.

क्या है खास:

खज्जर झील, गोल्डन देवी मंदिर, ट्रैकिंग, घुड़सवारी, पैराग्लाइडिंग, ज़ोरबिंग

4बिंसर

नैनीताल अगर झीलों का शहर है. तो बिंसर वन्यजीव प्रेमियों के लिए जन्नत से कम नहीं. यहां आपको गोरल्स, लाल लोमड़ी, ईगल, काले भालू देखने को मिल जाएंगे

क्या है खास:

बिंसर वन्यजीव अभयारण्य, खाली एस्टेट

5रानीखेत

रानीखेत, उत्तराखंड के कुमाऊं क्षेत्र की सबसे खूबसूरत जगहों में से एक है. कहा जाता है, कि जो एक बार रानीखेत आया, यहां की कुदरती खूबसूरती का कायल हो गया. बर्फ से ढकी हिमालय की पर्वत श्रंखला, दूर तक फैली हरियाली और शुद्ध ताजा हवा रानीखेत की पहचान है.

क्या है खास:

रानीखेत से बर्फ से ढकी हिमालय की लम्बी पर्वत श्रंखला दिखाई देती है. जो कि पर्यटकों का मन मोह लेती है. रानीखेत से सेण्डारी ग्लेशियर, कौसानी, चौबटिया और कालिका भी आसानी पहुंचा जा सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here