बर्फबारी के लुत्फ उठाने के बेचैन पर्यटकों के लिए अच्छी खबर है. मनाली से ऊपर रोहतांग पास, लाहौल स्पीति में सीजन की पहली बर्फबारी हुई है.

सफेद चादर में लिपटा लाहौल स्पीति

लाहौल स्पीति के जिस्पा में करीब आधा फीट बर्फबारी हुई है. जिससे ऊंची-ऊंची पहाडियां, रास्ते सब बर्फ से ढक गए हैं. हर तरफ सिर्फ बर्फ ही बर्फ है. कोरोना संकट में जब आप किसी शानदार जगह जाने की सोंच रहे हैं. तो लाहौल स्पीति, मनाली के आस-पास हुई बर्फबारी दिल को खुश कर देती है.

बर्फबारी से बढ़ी ठंड

मनाली, कुल्लू में दिन में धूप निकली रही है. लेकिन रात में बर्फबारी के चलते ठंड बढ़ गई है. कुल्लू-मनाली के पहाड़ों सहित धौलाधार पर्वत श्रृंखला पर भी बर्फ के फाहे गिरे हैं. खास बात ये कि लाहौल स्पीति के जिला मुख्यालय केलांग में पारा काफी नीचे पहुंच गया है. तो अगर आप बर्फबारी की बात सुनकर बैग पैक कर रहे हैं. तो जनाब ठंड के कपड़े ठीक तरह से तह कर लीजिएगा. क्योंकि शुक्रवार को यानी की 30 अक्टूबर को पारा -0.3 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया है.

मौसम विभाग की भविष्यवाणी

अब अगर आपने बैग पैक कर ही लिया है. तो साहब चलते मौसम विभाग की भविष्यवाणी भी सुन लीजिए. मौसम विभाग के मुताबिक हिमाचल में 5 नवंबर तक बारिश की कोई संभावना नहीं है. मतलब आप बिना किसी समस्या के बर्फबारी और खूबसूरत वादियों का आनंद ले सकते हैं. ऐसा इसलिए भी क्योंकि हिमाचल की खूबसूरत वादियों में रात में बर्फबारी के साथ दिन में सूरज भी निकल रहा है.

कोविड गाइडलाइन

कोरोना संक्रमण के चलते सरकार ने बाहर से आने वाले पर्यटकों के लिए कोविड गाइडलाइन का पालन करना जरूरी है. तो अगर आप यात्रा पर जा रहे हैं. तो अपने साथ मास्क, सैनिटाइजर जरूर ले जाएं. साथ ही यात्रा से पहले कोरोना टेस्ट जरूर करा लें. यात्रा के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें.

और पढ़ें: पर्यटकों के स्वागत के लिए मनाली तैयार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here